Bhopalmadhya pradesh

मुंगावली में मतदाता सूची की जांच के लिए आ सकता है दल

भोपाल। मुंगावली विधानसभा क्षेत्र की मतदाता सूची में एक नाम वाले मतदाताओं के कई जगह नाम पाए जाने सहित अन्य गड़बड़ियों के उजागर होने के बाद चुनाव आयोग जांच के लिए टीम भेज सकता है। इसको लेकर तैयारी शुरू हो गई है।

वहीं, गड़बड़ियों के लिए दोषी निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी (ईआरओ) को निलंबित किया जाएगा। इसके लिए तत्कालीन अधिकारियों के नाम छांटकर चुनाव आयोग को मंगलवार को भेज दिए। बताया जा रहा है कि एसडीएम के बाद तहसीलदारों की जिम्मेदारी भी तय हो सकती है।

सोमवार देर रात चुनाव आयोग ने मुंगावली विधानसभा क्षेत्र की मतदाता सूची में गड़बड़ी को लेकर निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी को निलंबित करने के निर्देश दिए थे। सूत्रों के मुताबिक मतदाता सूची के पुनरीक्षण का काम तत्कालीन एसडीएम सुमनलता माहोर और उदयवीर सिंह सिकरवार के समय हुआ था। सिकरवार को चुनाव आयोग जिले से बाहर पदस्थ करने के निर्देश पहले ही दे चुका है।

माहोर करीब आठ माह पदस्थ रहीं। बताया जा रहा है कि मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय ने दोपहर बाद मतदाता सूची की गड़बड़ी के लिए दोषी अधिकारियों के नाम चुनाव आयोग को भेज दिए। आयोग की हरी-झंडी मिलने के बाद दोषी अफसरों के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई के लिए शासन को लिखा जाएगा। बताया जा रहा है कि मतदाता सूची के काम में तहसीलदारों की भी भूमिका रहती है।

विस्तृत जांच में यदि यह पाया जाता है कि वे भी दोषी हैं तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। सूत्रों का कहना है कि इन कार्रवाईयों के अलावा चुनाव आयोग जांच के लिए एक दल भी दिल्ली से भेज सकता है। इसको लेकर सुगबुगाहट शुरू हो गई है। बताया जा रहा है कि इसको लेकर वरिष्ठ अधिकारियों के स्तर पर चर्चा भी हुई है।

सूची में मृतकों के साथ दोहराव भी

कांग्रेस की शिकायत पर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सलीना सिंह द्वारा कराई जांच में 834 मृतकों के नाम सूची में होना पाया गया। इसी तरह 312 ऐसे मतदाता पाए गए, जिनके नाम दो या दो से ज्यादा दर्ज हैं। 245 ऐसे मतदाता भी पहचाने गए, जो मौके पर मौजूद ही नहीं हैं। 435 मतदाता कहीं चले गए यानी बताए गए स्थान पर नहीं मिले हैं।

पुलिस पर्यवेक्षक तैनात करें

कांग्रेस प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी ने चुनाव आयोग से मुंगावली और कोलारस विधानसभा उपचुनाव के लिए पुलिस पर्यवेक्षक नियुक्त करने की मांग की है। 24 फरवरी को मतदान होना है।

Related Articles

Back to top button