Bhopalmadhya pradesh

यह कैसा लॉकडाउन : नाव में सवार होकर नर्मदा नदी पार और पहुंच गए सीहोर- होशंगाबाद-हरदा

 

 

[mkd_highlight background_color=”” color=”red”]बलराम सिसोदिया[/mkd_highlight]

 

 

 

मध्यप्रदेश। कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन में भी लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंध नहीं लग पा रहा है। सड़क, रेल मार्ग पर सख्ती की तो लोगों ने अब नर्मदा के रास्ते एक जिले से दूसरे जिले में प्रवेश करना शुरू कर दिया है। ऐसा ही मामला सीहोर जिले के नर्मदा तटों पर सामने आया है। यहां पर होशंगाबाद और हरदा की तरफ से आने वाले लोगों को चोरी-छुपे नाव एवं डोंगे से सीहोर जिले में प्रवेश कराया जा रहा है। इसके कारण अब यहां पर भी कोरोना वायरस का खतरा ज्यादा मंडराने लगा है।
अब तक ग्रीन जोन में चल रहा सीहोर जिला भी कोरोना वायरस की जद में आ गया है। सीहोर में एक मरीज पॉजिटिव आने के बाद पुलिस प्रशासन ने जरूर सख्ती शुरू कर दी है, लेकिन जिला प्रशासन के अधिकारियों की लापरवाही सामने आ रही है। जिले के मरदानपुर, बाबरी सहित अन्य नर्मदा तटों से होशंगाबाद एवं हरदा की तरफ से आने वाले लोगों को मोटरसाइकिल सहित सीहोर जिले में प्रवेश कराया जा रहा है। यहां के नाव ठेकेदार एवं डोंगे चलाने वाले लोगों से पैसे लेकर उन्हें नर्मदा नदी पार करवा रहे हैं।

बिना परमिशन नहीं है जिले में प्रवेश-

सड़क मार्ग पर निजी वाहन एवं अन्य संसाधनों से चलने वाले लोगों को भी बिना परमिशन के एक जिले से दूसरे जिले में प्रवेश की अनुमति नहीं है। बिना परमिशन के जिलों में प्रवेश बिल्कुल नहीं दिया जा रहा है। हर जिले की सीमा पर पुलिस की टीम लगी है, जबकि नर्मदा नदी पार करके आने वाले लोग बिना परमिशन के ही आवाजाही कर रहे हैं।

–होशंगाबाद रेड जोन में

कोरोना वायरस के कारण होशंगाबाद लगातार रेड जोन में चल रहा है। इसी तरह हरदा जिले में भी कोरोना संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। ऐसी स्थिति में यदि यहां से जाने वाले लोगों को नर्मदा नदी पार कराकर सीहोर जिले में प्रवेश दिलाया जा रहा है तो यहां पर भी कोरोना का खतरा ज्यादा मंडराने लगा है। हालांकि पुलिस की टीम लगातार लोगों पर सख्ती कर रही है और उनसे सहयोग की अपेक्षा भी कर रही है, लेकिन पुलिस को लोगों से अपेक्षित सहयोग नहीं मिल पा रहा है।

–आम दिनों में यहां से होती है आवाजाही-

आम दिनों में नर्मदा के ज्यादा घाटों से नाव द्वारा लोगों को आर-पार कराया जाता है। सीहोर जिले के आंवलीघाट, मरदानपुर, बाबरी, चौरसाखेड़ी, डिमावर, छिपानेर सहित अन्य घाटों से नाव द्वारा लोगों को पार कराया जाता है, लेकिन लॉकडाउन के कारण सभी घाटों पर नाव ठेकेदारों को स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि वे किसी भी स्थिति में नर्मदा नदी से लोगों को आर-पार नहीं कराएं। यदि कराया गया तो उन पर कार्रवाई की जाएगी।

— अधिकारी बोले…

हमें जैसे ही यह सूचना मिली की नर्मदा नदी से लोगों को नाव एवं डोंगे से आर-पार करवाया जा रहा है, उसी समय हमने पुलिस टीम भेजकर नाव का इंजन खुलवा लिया है। अब नाव एवं डोंगे से पार कराने वाले लोगों पर भी कार्रवाई करेंगे। यह लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। – ( रवींद्र यादव, थाना प्रभारी, थाना रेहटी )

लॉकडाउन के चलते जिले में बाहरी प्रवेश बंद हैं। पुलिस की टीम लगातार लॉकडाउन का पालन करवा रही है। यदि नर्मदा नदी से लोगों को आर-पार कराया जा रहा है तो यह गंभीर मामला है। इस पर पुलिस कार्रवाई करेगी। – ( आरएल बागरी, तहसीलदार, रेहटी )

Related Articles

Back to top button