chattisgarh

मुख्यमंत्री बघेल की अफसरों को सीख, जनता से उनकी भाषा में करें बात और सुलझाएं समस्याएं

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की प्रतापपुर में अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। उन्होंने अधिकारियों को पानी की कमी भूजल स्तर में कमी को दूर करने विशेष ध्यान देने का निर्देश दिया। सीएम ने कहा कि नरवा के काम तेज़ी से पूरे करे। हेलीकाप्टर से आते समय देखा एक नाला सुख गया है पर ट्रीट मेन्ट वाला नाला पानी युक्त है।

सीएम ने कहा कि जिनका 13 दिसंबर 2005 के पहले से कब्जा है उन सभी को फारेस्ट लेंड पट्टा मिल जाये।

राजश्व विभाग की शिकायतें है उन्हें दूर करे। पटवारी की शिकायते ज्यादा है। आवर्ती चराई के लिए पहाड़ी, बस्ती से दूर गौठान बन रहे है इस पर धयान दे। सही जगह बने।

गौठान योजना ने गड़बड़ी या लापरवाही बर्दाश्त नही

यदि किसी गरीब को राशन कार्ड न मिले तो ये हमारी गलती है। यदि कोई समस्या है तो अधिकारियों को अवगत कराइये जनता के प्रति जवाबदेह बनिये, काम मे मुस्तेदी लाये। लोगों से उनकी भाषा मे बात करिए उनको अच्छा लगेगा गुड गवर्नेंस का यही तरीका है। प्रतापपुर में सरकारी बिल्डिंग में रेन वाटर हार्वेस्टिंग रहना चाहिए। रायपुर शहर के बाद पहला जिला जहां 800 फ़ीट में पानी नहीं।

वाटर रिचार्जिंग में ध्यान दें बिना झिझक के अच्छा काम करें। प्रभारी सचिव रिव्यू करें और जितनी भी मेरी घोषणाएं व निर्देश हों, वह पूरी होनी चाहिए। शिकायत निवारण के लिए आनलाइन काल सेंटर खोले जाएंगे। नालो से बालू की अवैध खुदाई का मामला कड़ाई से करवाई की जाएगी। अवैध उत्खनन पर कड़ाई से कार्यवाही होगी। हमारी योजनाओ ने आदिवासियों का दिल जीता है, इस से नक्सली अब सिमट कर रह गए हैं।

Related Articles

Back to top button