INDIA

भारत में सारनाथ, बोधगया, कुशीनगर और नेपाल में लुम्बिनी हमारी साझी विरासत के प्रतीक: पीएम मोदी

नई दिल्ली। पीएम नरेन्द्र मोदी नेपाल (PM Narendra Modi in Nepal) दौरे पर हैं। मोदी सोमवार सुबह वायुसेना के हेलिकाप्टर से लुंबिनी पहुंचे। लुंबिनी पहुंचने पर नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा ने उनका जोरदार स्वागत किया। मोदी लुंबिनी में सबसे पहले महामाया देवी मंदिर गए। माया देवी मंदिर में उन्होंने पूजा की। इस दौरान पीएम देउबा भी उनके साथ थे।

भारत और नेपाल में हमारी साझी विरासत के प्रतीक मौजूद

संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि भारत में सारनाथ, बोधगया और कुशीनगर से लेकर नेपाल में लुम्बिनी तक ये पवित्र स्थान हमारी साझी विरासत और साझी मूल्यों का प्रतीक है। हमें इस विरासत को साथ मिलकर विकसित करना है और आगे समृद्ध भी करना है।

लुंबिनी में पीएम मोदी ने किया कार्यक्रम को संबोधित

पीएम मोदी ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि नेपाल में लुम्बिनी म्यूज़ियम का निर्माण भी दोनों देशों के साझा सहयोग का उदाहरण है। आज हमने लुम्बिनी Buddhist University में डा. अम्बेडकर Chair for Buddhist Studies स्थापित करने का भी निर्णय लिया। साथ ही उन्होंने कहा कि जिस स्थान पर मेरा जन्म हुआ, गुजरात का वडनगर, वो सदियों पहले बौद्ध शिक्षा का बहुत बड़ा केंद्र था।

पीएम देउबा ने प्रधानमंत्री मोदी की उपस्थिति पर जताई प्रसन्नता

नेपाली प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा ने लुंबिनी में बुद्ध जयंती कार्यक्रम में अपने संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री मोदी की उपस्थिति पर प्रसन्नता जताई। उन्होंने कहा कि भगवान बुद्ध की जन्मस्थली लुंबिनी की इस पवित्र भूमि पर पीएम मोदी का स्वागत करते हुए आज बेहद खुशी हो रही है। इस पवित्र भूमि पर आयोजित विशेष समारोह में पीएम मोदी की उपस्थिति बेहद खास है।

कुल छह समझौता पर हुए हस्ताक्षर

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की नेपाल यात्रा के दौरान आज कुल छह समझौता पर हस्ताक्षर किए गए और उनका आदान-प्रदान किया गया। वहीं नेपाली समकक्ष के साथ हुई द्विपक्षीय वार्ता में जल विद्युत, विकास और कनेक्टिविटी को लेकर चर्चा हुई।

पीएम देउबा के साथ की द्विपक्षीय वार्ता

पीएम मोदी ने नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा के साथ लुंबिनी में द्विपक्षीय वार्ता की। इस दौरान दोनों नेताओं के बीच विकास, पनबिजली और संपर्क जैसे कई क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने पर चर्चा हुई।

बौद्ध संस्कृति और विरासत केंद्र की आधारशिला रखी

पीएम मोदी ने बौद्ध संस्कृति और विरासत केंद्र की आधारशिला भी रखी। एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया कि प्रधानमंत्री नेपाल सरकार के तत्वावधान में लुंबिनी डेवलपमेंट ट्रस्ट द्वारा आयोजित बुद्ध जयंती कार्यक्रम को भी संबोधित करेंगे। कार्यक्रम में हजारों लोग शामिल रहेंगे।

भारतीय समुदाय के लोगों से मुलाकात की

प्रधानमंत्री मोदी ने लुंबिनी में भारतीय समुदाय के लोगों से मुलाकात भी की। भारतीय लोगों में गजब का उत्साह देखने को मिला। भारतीय लोग ‘वंदे मातरम’ और ‘भारत माता की जय के नारे’ लगा रहे थे।

पीएम देउबा के साथ करेंगे बैठक

पीएम मोदी नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा के साथ बैठक भी करेंगे। दोनों नेताओं के बीच विकास, पनबिजली और संपर्क जैसे कई क्षेत्रों द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने पर चर्चा होने की उम्मीद है। बता दें कि साल 2014 में पीएम बनने के बाद मोदी का ये पांचवीं बार नेपाल का दौरा है।

नेपाल के अद्भुत लोगों के बीच आकर खुश हूं- मोदी

नेपाल पहुंचने पर पीएम मोदी ने ट्वीट किया है। मोदी ने कहा कि मैं लुंबिनी पहुंचने पर प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा द्वारा गर्मजोशी से स्वागत किए जाने पर उनका धन्यवाद करता हूं। मोदी ने आगे कहा, मैं नेपाल के अद्भुत लोगों के बीच आकर खुश हूं।

वापसी में लखनऊ भी आएंगे मोदी

पीएम मोदी नेपाल से कुशीनगर लौटकर बुद्ध की महा‍परिनिर्वाणस्‍थली पर वंदन करेंगे। 30 मिनट प्रवास के बाद शाम करीब पांच बजे लखनऊ के लिए प्रस्‍थान करेंगे। पीएम लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास पर यूपी के मंत्रियों के साथ बैठक करेंगे। प्रधानमंत्री राज्य के मंत्रियों को सुशासन का पाठ पढ़ाएंगे।

Related Articles

Back to top button