madhya pradesh

ओबीसी आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से भाजपा में जश्‍न का माहौल, पार्टी दफ्तर पहुंचे सीएम शिवराज

भोपाल। मध्य प्रदेश में पंचायत और नगरीय निकाय पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) आरक्षण के साथ कराने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भाजपा में जश्‍न का माहौल है। पार्टी ने इसे अपनी और शिवराज सरकार के संकल्‍प की जीत बताते हुए सुप्रीम कोर्ट के फैसले को ऐतिहासिक करार दिया है। राजधानी में सात नंबर स्‍थित पार्टी मुख्‍यालय पर कार्यकर्ता एकत्रित होकर ढोल-नगाड़े बजाकर और आतिशबाजी कर इस फैसले का जश्‍न मना रहे हैं। मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, पार्टी के प्रदेशाध्‍यक्ष वीडी शर्मा और नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह, चिकित्‍सा शिक्षा मंत्री विश्‍वास सारंग समेत पार्टी के अनेक बड़े नेता भी पार्टी मुख्‍यालय पहुंचे हैं। इस अवसर पर नेताओं व कार्यकर्ताओं ने एक-दूसरे का मुंह मीठा कराया।

यहां पर यहां पर पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि हमने विधानसभा में यह संकल्प लिया था कि निकाय और पंचायत चुनाव में ओबीसी वर्ग के आरक्षण के साथ ही चुनाव होंगे। भाजपा सरकार जो कहती है, वो करके दिखाती है। आज हम अपना संकल्प पूरा कर रहे हैं। इस अवसर पर उन्‍होंने विपक्षी दल कांग्रेस पर जमकर हमला बोला और कहा कि कांग्रेस सिर्फ वोटबैंक की राजनीति करती है, उन्होंने कभी किसी भी वर्ग का भला नहीं किया। इसी तरह ओबीसी वर्ग को भी कांग्रेस ने केवल धोखा दिया है। कांग्रेस बताए कि ओबीसी वर्ग के आरक्षण के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट क्यों गई थी? महाराष्ट्र में कांग्रेस गठबंधन की ही सरकार है, यदि वे ओबीसी के सच्चे हितैषी हैं तो वहाँ क्यों इस वर्ग को आरक्षण नहीं दिला पा रहे हैं। कांग्रेस केवल झूठे ढोल पीटने का काम करती है, ओबीसी को न्याय दिलाना उनका उद्देश्य है ही नहीं।

उन्‍होंने आगे कहा कि भाजपा संगठन और सरकार ने ओबीसी वर्ग के आरक्षण के साथ निकाय व पंचायत चुनाव कराने का संकल्प लिया था। आज सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय से ओबीसी वर्ग के आरक्षण का रास्ता साफ हो गया है, इसके लिए सभी को बधाई। भाजपा सरकार सभी वर्गों के विकास और कल्याण के लिए सदैव प्रतिबद्ध है।

इससे पहले प्रदेशाध्‍यक्ष वीडी शर्मा ने कहा कि पूरा मध्यप्रदेश जानता है कि ओबीसी वर्ग को भ्रम में रखने और उन्हें आरक्षण नहीं देने के लिए झूठ का सहारा लिया था। आज भाजपा सरकार के प्रयासों से आये कोर्ट के आदेश के बाद कांग्रेस का झूठ सार्वजनिक हुआ है। मध्यप्रदेश भाजपा संगठन और सरकार ने मिलकर यह संकल्प लिया था कि बगैर ओबीसी आरक्षण के चुनाव हम नहीं करेंगे। हम ओबीसी वर्ग को आरक्षण प्रदान करेंगे, आज कोर्ट ने भाजपा सरकार की मांग को स्वीकार किया है। उसके लिए सर्वोच्च न्यायालय को धन्यवाद। आज कांग्रेस की छल, कपट और झूठ की राजनीति का पर्दाफाश हुआ है। सभी कार्यकर्ताओं से मैं आह्वान करता हूं कि आगामी निकाय औऱ पंचायत चुनाव में सब मिलकर हर बूथ पर कांग्रेस की असलियत सबके सामने रखेंगे। आज मध्यप्रदेश के लिए ऐतिहासिक दिन है, सुप्रीम कोर्ट ने ओबीसी आरक्षण के साथ स्थानीय निकाय व पंचायत चुनाव करवाने का निर्णय लिया है। यह भारतीय जनता पार्टी की सरकार एवं संगठन के संकल्प की जीत है।

Related Articles

Back to top button