Politics

गुजरात में मंत्रिमंडल गठन को लेकर अटकलें तेज, जानें कौन होगा शामिल, किसका पत्‍ता होगा साफ

अहमदाबाद। गुजरात में नए मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण के साथ ही अब गुरुवार को होने वाले मंत्रिमंडल गठन पर मंथन शुरू हो गया है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की गुजरात भाजपा के निरीक्षक भूपेंद्र यादव से सोमवार शाम की मुलाकात के बाद जहां अटकलें शुरू हो गई, वही मंगलवार को कई मंत्रियों को दफ्तरों में फाइलों का वजन कम करते भी देखा गया।

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने सोमवार को नई दिल्ली जाने से पहले अहमदाबाद के शाहीबाग स्थित सरकारी अतिथि गृह में केंद्रीय मंत्री एवं गुजरात भाजपा के निरीक्षक भूपेंद्र यादव से मंत्रिमंडल गठन को लेकर चर्चा की। यादव को गुजरात के मंत्रिमंडल गठन की जिम्मेदारी सौंपी गई है। प्रदेश भाजपा संसदीय बोर्ड के नेताओं ने मुख्यमंत्री के साथ गांधीनगर में चर्चा की जिसके बाद रुपाणी सरकार के मंत्रिमंडल में शामिल कई मंत्रियों को दफ्तरों में फाइल निस्तारण के साथ फाइलों को कम करते भी देखा गया।

इससे पहले मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के मंत्रिमंडल गठन पर चर्चा के लिए मंगलवार को गांधीनगर स्थित मुख्यमंत्री आवास पर प्रदेश भाजपा के संसदीय बोर्ड के सदस्यों ने बैठक की वही दूसरी ओर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटील से भी विधायकों के मिलने का तांता लगा रहा। विधायक मोहन डोडिया, अरुण सिंह, पीयूष देसाई, राजेंद्र सिंह चावड़ा सहित कई विधायक पाटिल से मिले।

नए मंत्रिमंडल में युवाओं एवं महिलाओं को अधिक स्थान मिल सकता है। जातीय समीकरण को बिठाने के साथ साफ-सुथरी छवि के नेताओं को इसमें शामिल किया जाएगा उधर उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल के मंत्रिमंडल में शामिल होने पर भी संशय है।

रुपाणी सरकार के 8 से 10 मंत्रियों को सरकार के बजाय संगठन के काम में लगाया जा सकता है। पूर्व मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने भी इस बीच कहा है कि पार्टी उन्हें जो भी जिम्मेदारी देगी, वे उसे पूरा करेंगे। मुख्यमंत्री पद गंवाने का जरा भी गम नहीं है। पहले भी सीएम थे और आज भी सीएम (कामन मैन) हैं।

भूपेंद्र पटेल के मंत्रिमंडल में विधानसभा अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी व वरिष्ठ विधायक डॉ नीमाबेन आचार्य दो बड़े चेहरे हो सकते हैं, दोनों ही ब्राह्मण समुदाय से हैं। भाजपा के पूर्व अध्यक्ष जीतूभाई वाघाणी, विधानसभा में भाजपा के मुख्य सचेतक पंकज देसाई के भी मंत्रिमंडल में शामिल होने की संभावना है। गृह राज्य मंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा को कैबिनेट रेंक मिलने की पूरी पूरी संभावना है। जबकि वरिष्ठ मंत्री भूपेंद्र सिंह चूड़ासामा को विधानसभा अध्यक्ष का पद दिया जा सकता है।

भाजपा अध्यक्ष पाटिल के करीबी सूरत के विधायक हर्ष संघवी व संगीता पाटिल, अहमदाबाद एलिसब्रिज से विधायक राकेश शाह वडोदरा से विधायक मनीषा वकील, दुष्यंत पटेल भरूच, मोहन डोडिया महुआ, ऋषिकेश पटेल विसनगर, आत्माराम परमार गढडा, गोविंद पटेल राजकोट, किरीट सिंह राणा लिंबडी, कीर्ति सिंह वाघेला कांकरेज विधायक का नाम मंत्रीमंडल के लिए चर्चा में है।

Related Articles

Back to top button