breaking newsSports

BCCI की 7 राज्य इकाइयों ने जोहरी को निलंबित करने की मांग की

बीसीसीआई की सात राज्य इकाइयों ने बोर्ड के सीईओ राहुल जोहरी के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच लंबित रहने तक उन्हें निलंबित करने की मांग की है.

बीसीसीआई के पूर्व पदाधिकारी ने पीटीआई से गोपनीयता की शर्त पर कहा, ‘सात राज्य इकाइयों सौराष्ट्र, तमिलनाडु, गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, मध्यप्रदेश, गोवा ने प्रशासकों की समिति (सीओए) को अलग-अलग पत्र लिखकर सीईओ राहुल जोहरी को जांच लंबित रहने तक निलंबित करने की मांग की है. अब फैसला विनोद राय को करना है.’

सीओए ने जौहरी को कारण बताओ नोटिस जारी किया था और पता चला है कि उन्होंने उसका जवाब दे दिया है. एक अज्ञात अकाउंट के जरिये सोशल मीडिया पर जोहरी के खिलाफ यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया गया था. जोहरी से इस बारे में संपर्क करने की कोशिश की गई, लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया.

क्या था पूरा मामला?

दरअसल, एक महिला पत्रकार ने जोहरी पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है. जोहरी 2016 से ही बीसीसीआई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी पद पर कार्यरत हैं.

महिला ने जोहरी पर आरोप लगाया कि, ‘मेरी राहुल जोहरी से जॉब के सिलसिले में मुलाकात हुई थी. हम दोनों एक कॉफी शॉप में मिले थे और तब वो नौकरी के बदले मुझसे कुछ चाहते थे.’

बीसीसीआई का सीईओ बनने से पहले राहुल जोहरी डिस्कवरी नेटवर्क एशिया पेसिफिक के एग्जीक्यूटिव वाइस प्रेसीडेंट और जनरल मैनेजर (साउथ एशिया) के तौर पर कार्यरत थे. महिला ने आरोप लगाया है कि नौकरी के इंटरव्यू के बहाने वह उसे अपने घर ले गए थे.

शेयर की गई आपबीती के मुताबिक राहुल जोहरी उस महिला को उस वक्त अपने घर ले गए, जब उनकी पत्नी वहां नहीं थी. जौहरी की हरकत के आगे वह बेबस थी. वह बताती है कि ‘शर्मनाक घटना’ का बोझ लिए आज भी घूम रही है. लोक लाज के डर से ये बात अब तक छुपाए रखी. लेकिन… इसमें मेरी कोई गलती नहीं है.

Related Articles

Back to top button