breaking newscrimeLucknowTop-Stories

अजमेर ब्लास्ट का दोषी डॉ बम कानपुर से गिरफ्तार

– पैरोल पर छूटने के बाद मुंबई से हुआ था फरार
लखनऊ। अजमेर बम ब्लास्ट का गुनहगार आतंकी डा. जलील अंसारी कानपुर से गिरफ्तार हो गया है। 68 वर्षीय जलीस अजमेर धमाके के मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहा था। वह कुछ दिन पहले पैरोल पर जेल से बाहर आया था। उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि आतंकी अंसारी यूपी के रास्ते नेपाल भागने की तैयारी में था। पुलिस गिरफ्तार करने के बाद आतंकी जलील को लखनऊ ला रही है।
अजमेर बम ब्लॉस्ट का गुनहगार जालिस अंसारी मुंबई महानगरपालिका में डॉक्टर के पद पर कार्यरत था।  पाकिस्तान में जाकर बम बनाने की ट्रेनिंग लेने के बाद 1993 में उसने राजस्थान के अजमेर में बम विस्फोट किया था। पचास से अधिक बम धमाकों में नाम आने के बाद गुनहगार अंसारी को डॉ बम भी कहा जाने लगा था। गिरफ्तार होने के बाद उसने मुंबई सहित देश में कई जगह बम विस्फोट में शामिल होने का अपराध स्वीकार किया था। कोर्ट ने जलीस अंसारी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी।

Related Articles

Back to top button