Bhopalbreaking newsTop-Stories

मप्र में रेत के खेल पर विधायक और पूर्व विधायक गुटों में चले जमकर लठ्ठ

-सत्तापक्ष के विधायक और पूर्व विधायक आमने सामने

 

                ( कमलेश पाण्डेय )

 

मध्यप्रदेश। छतरपुर जिले में रेत का कारोबार खूनी संघर्ष में तब्दील हो चुका है। सत्ता और प्रशासन के गठजोड़ से चल रहे इस कारोबार में अब राजनेता भी आपस में टकराने लगे हैं। बीती रात खजुराहो के एक होटल के बाहर विधायक नातीराजा एवं पूर्व विधायक मुन्नाराजा के समर्थकों के बीच जमकर विवाद हुआ। इस विवाद के चलते नातीराजा समर्थकों ने मुन्नाराजा समर्थकों के साथ मारपीट की और तीन फोर व्हीलर गाडिय़ों में जमकर तोडफ़ोड़ की। जिस होटल के बाहर यह वारदात हुई उसी होटल के संचालक व मुन्नाराजा समर्थक वैभव ताम्रकार की रिपोर्ट पर 10 लोगों के खिलाफ मारपीट और फायरिंग का मुकदमा कायम किया गया है। वहीं दूसरे पक्ष की ओर से भी मामला दर्ज कराया गया है।

-इसलिए हुआ विवाद

दरअसल जिले में अब तक ज्यादातर रेत के घाटों पर अवैध रेत का उत्खनन चल रहा है जबकि सरकार जिले के सभी रेत घाट आनदेश्वर फूड एग्रो नामक कंपनी को लीज पर दे चुकी है। खबर है कि राजनगर क्षेत्र के कुरैला रेत घाट से कथित रूप से नातीराजा के समर्थकों द्वारा रेत का अवैध कारोबार किया जा रहा था जबकि ठेकेदार कंपनी आनंदेश्वर ने इस क्षेत्र में रेत के वैधानिक कारोबार की जिम्मेदारी पूर्व विधायक मुन्नाराजा के बेटे सिद्धार्थशंकर बुन्देला को सौंपी है। बीती शाम जब कुरैला रेत घाट से अवैध रूप से रेत भरकर कुछ ट्रक निकल रहे थे तब मुन्नाराजा समर्थकों ने इन ट्रकों को रोककर इनके दस्तावेज पूछे, जब दस्तावेज नहीं मिले तो कुछ ट्रकों की चाबियां निकाल ली गईं। इसी बात पर नातीराजा समर्थक भड़क गए और उन्होंने चाबी निकालने वालों को खोजना शुरू कर दिया। रात करीब 10 बजे खजुराहो के होटल टूरिस्ट होम, श्रीराम धर्मशाला में मुन्नाराजा के समर्थक रूके हुए थे। यहीं पर नातीराजा के समर्थक पहुंच गए और यहां खड़ी तीन गाडिय़ों स्कार्पियो, जायलो और डिजायर में तोडफ़ोड़ शुरू कर दी। होटल मालिक वैभव ताम्रकार द्वारा खजुराहो थाने में दर्ज कराई गई रिपोर्ट के मुताबिक आरोपी जयवीर सिंह, कमित सिंह, शिवम बुन्देला, सौरभ बुन्देला, अमित दीक्षित, सलमान खान, भूपेन्द्र अवस्थी, फरहान अली, राजदीप बुन्देला, शिवम बुन्देला गोरा आदि ने यहां पहुंचकर मारपीट करते हुए फायरिंग की और कहा कि रेत का काम करने वालों को अपने होटल में मत ठहराना। आरोपी हमला कर मौके से फरार हो गए जिसके बाद मुन्नाराजा समर्थक थाने पहुंचे और रिपोर्ट दर्ज कराने का प्रयास किया। जब काफी देर तक रिपोर्ट नहीं लिखी गई तो मुन्नाराजा के समर्थक एवं पुत्र सिद्धार्थशंकर बुन्देला थाने पहुंच गए और रात करीब एक बजे तक भारी गहमा-गहमी के बीच आरोपियों के खिलाफ प्रकरण पंजीबद्ध हो सका।

-सीसीटीव्ही में कैद हुईं तोडफ़ोड़ की तस्वीरें

जिस वक्त नातीराजा समर्थक गाडिय़ों में तोडफ़ोड़ कर रहे थे उस समय इस घटना की तस्वीरें होटल के बाहर लगे सीसीटीव्ही कैमरों में भी कैद हो रही थीं। पुलिस ने इन्हीं सीसीटीव्ही तस्वीरों के आधार पर आरोपियों के खिलाफ धारा 147, 148, 149, 294, 323, 506, 336, 427 का प्रकरण पंजीबद्ध कर लिया है। वहीं दूसरे पक्ष की ओर से सलमान खान एवं एक ट्रक ड्राईवर विजय जायसवाल की शिकायत पर मृगेन्द्र सिंह, मानवेन्द्र ङ्क्षसह, वैभव ताम्रकार, अजय प्रताप सिंह के विरुद्ध भी प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है।

Related Articles

Back to top button